Advertisment

शिबू सोरेन के परिवार में ही सियासी जंग शुरू, जेठानी को जवाब देगी देवरानी कल्पना ?

शिबू परिवार की लड़ाई अब रूठने मनाने के दौर से बाहर निकलकर चुनावी मैदान तक पहुंच गई है।

author-image
By aryasamay
New Update
DH

Shibu Soren's family

झारखंड। शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन परिवार के वर्चस्व वाली पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा को छोड़कर भाजपा में शामिल हो गई है, वहीं भाजपा ने भी लगे हाथ सीता सोरेन को दुमका सीट से प्रत्याशी घोषित कर दिया है।

Advertisment

 झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन दुमका सीट से 8 बार सांसद रहे हैं। साल 2019 में भाजपा प्रत्याशी सुनील सोरेन ने शिबू सोरेन को करारी शिकस्त दी थी। भाजपा इस सीट से पहले सुनील सोरेन को प्रत्याशी घोषित कर चुकी थी, लेकिन अब बाद में सीता सोरेन को टिकट दे दिया।

 चर्चा है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद अब झामुमो हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन को दुमका सीट पर उतार सकती है। इसके अलावा यह भी चर्चा है कि कल्पना सोरेन को गांडेय विधानसभा उपचुनाव में उम्मीदवार बनाया जा सकता है। ऐसे में दुमका सीट पर दोनों ही मोर्चों पर देवर-भाभी और देवरानी-जेठानी का मुकाबला हो सकता है।

 सोरेन परिवार से जुड़ा होने के कारण झामुमो के नेता और कार्यकर्ता भी अब सीता सोरेन पर सीधा प्रहार करने से बच रहे हैं। झामुमो के प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने अपने बयान को सीधे शब्दों के साथ रखा और उन्होंने कहा कि पति दुर्गा सोरेन के निधन के बाद परिवार व पार्टी में सीता सोरेन को पूरा सम्मान दिया गया। खुद शिबू सोरेन उन्हें मनाने की कोशिश की।

कल्पना सोरेन ने बी अपनी पोस्ट के जरिए बड़े भाई के साथ हेमंत के स्नेह और आदर के रिश्ते का उल्लेख किया।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment