Advertisment

PM Surya Ghar Yojna: 300 यूनिट फ्री बिजली... साथ में सब्सिडी, इस सरकारी स्कीम में फायदा ही फायदा

रूफटॉप सोलर स्कीम' या 'पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना' (PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana) का ऐलान किया था। इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लॉन्च भी कर दिया है।

New Update
aaa

300 units of free electricity

इसमें लाभार्थियों को 300 यूनिट फ्री बिजली तो मिलती ही है और इसके साथ ही सब्सिडी का लाभ भी मिलता है। हालांकि, इसके लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। 

Advertisment

1 करोड़ घरों को रोशन करने का लक्ष्य
PM Surya Ghar Yojna के तहत घरों में पावर सप्लाई और अतिरिक्त बिजली उत्पादन के लिए घरों में सोलर पैनल लगाए जाते हैं। सरकार के मुताबिक, मुफ्त बिजली योजना का लक्ष्य एक करोड़ घरों को रोशन करना है और इसके तहत हर महीने 300 यूनिट मुफ्त बिजली दी जा रही है। इस योजना में घरों की छत पर सोलर पैनल लगाए जाते हैं और इस पर आने वाली लागत के बोझ को कम करने के मद्देनजर सरकार इस स्कीम में आवेदन करने वाले लोंगों के खाते में सब्सिडी भी भेजती है, जो कि मीटर क्षमता के हिसाब से तय की गई है। 

पीएम सूर्य घर में इतनी सब्सिडी
300 यूनिट फ्री बिजली देने वाली इस सरकारी स्कीम में सरकार सौर पैनल स्थापित करने के लिए जो सब्सिडी देती है, उसके अनुसार अगर आप अपने घर में 2kW का रूफटॉप सोलर लगवाना चाहते हैं। तो वेबसाइट पर मौजूद कैलकुलेटर के हिसाब से इसके लिए कुल प्रोजेक्ट कोस्ट 47000 रुपये होगा। लेकिन इसपर सरकार की ओर से 18000 रुपये सब्सिडी मिलेगी। इस तरह से ग्राहक को रूफटॉप सोलर लगवाने के लिए 29000 रुपये का भुगतान करना होगा।  

नियम के मुताबिक इसके लिए 130 वर्ग फीट की जगह होनी चाहिए. 47000 रुपये की लागत से तैयार सोलर प्लांट से हर रोज 4.32 Kwh/day बिजली पैदा होगी, जो सालाना 1576 kWh/Year बैठती है। इससे ग्राहक को रोजाना 12.96 रुपये की बचत होगी, और सालभर 4730 रुपये की बचत होगी।

Advertisment

अगर आपका रूफटॉप एरिया 700 स्कॉयर फीट है, तो फिर 3 किलोवाट के पैनल के लिए आपको आवेदन करना होगा और इस क्षमता का मीटर और सोलर पैनल लगवाने के लिए आपका इन्वेस्टमेंट 80,000 रुपये होगा। वहीं सरकार की ओर से मिलने वाली सब्सिडी की राशि बढ़कर 36,000 रुपये हो जाएगी। यानी आपको इसके लिए जेब से सिर्फ 50,000 रुपये खर्च करने होंगे। इससे ज्यादा क्षमता के मीटर पर अधिकतम सब्सिडी की रकम 78,000 रुपये तक है। 

सब्सिडी पाने के लिए ये काम जरूरी 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा दिए गए इस तोहफे से जहां लाभार्थियों के घर रोशन होंगे, तो वहीं सरकार का होने वाला खर्च लगभग 75000 करोड़ रुपये होगा। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को भारत का निवासी होने चाहिए। इसके साथ ही खुद के आवास वाले गरीब और मध्यम आय वाले परिवार इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। यहां ये बात ध्यान में रखना जरूरी है कि सरकार की ओर से मिलने वाली सब्सिडी पाने के लिए आपको एक जरूरी काम करना होगा।

जी हां नेट मीटर इंस्‍टॉल होने के बाद DISCOM की तरफ से जांच के बाद पोर्टल से आपके लिए कमीशनिंग सर्टिफिकेट जारी कर दी जाएगी, जिसका मतलब होगा कि अब आप इस योजना के तहत अप्‍लाई कर चुके हैं। लेकिन सब्सिडी लेने के लिए आपको एक डॉक्‍यूमेंट अपलोड करना होगा। सर्टिफिकेट के जारी होने के बाद पोर्टल पर बैंक अकाउंट डिटेल और कैंसिल चेक सब्मिट करना होगा। इसके बाद आपके बैंक अकाउंट में सब्सिडी भेजी जाएगी।

अप्लाई का तरीका है बेहद आसान 
सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://pmsuryaghar.gov.in पर जाएं और अप्लाई फॉर रूफटॉप सोलर चुनें।

  • अब अपने राज्य और बिजली वितरण कंपनी का नाम चुनें। फिर अपना बिजली उपभोक्ता नंबर, मोबाइल नंबर और ईमेल डालें।
  • इसके बाद नए पेज पर कंज्यूमर नंबर और मोबाइल डालकर लॉगइन करें। जब फॉर्म खुल जाएगा तो इसमें दिए गए दिशा-निर्देशों के तहत रूफटॉप सोलर पैनल के लिए अप्लाई करें।
  • इस प्रक्रिया को पूरा करने के बाद आपको फीजिबिलिटी अप्रूवल मिलेगा, इसके बाद अपने DISCOM के साथ रजिस्टर्ड किसी भी वेंडर से प्लांट इंस्टॉल करा सकेंगे।
  • सोलर पैनल इंस्टॉलेशन होने के बाद अगले स्टेप के तहत आपको प्लांट डिटेल के साथ नेट मीटर के लिए आवेदन करना होगा।
Advertisment
Latest Stories
Advertisment