Advertisment

ममता बनर्जी को 542 तो स्टालिन को 503 करोड़ रुपये, 'लॉटरी किंग' ने 2 दलों पर जमकर बहाया धन

SBI यानी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने गुरुवार को भारत निर्वाचन आयोग (ECI) के साथ इलेक्टोरल बॉन्ड से जुड़ा साझा किया है। ताजा डेटा सेट में यूनिक कोड भी शामिल है। इस जानकारी के सामने आते ही साफ हो गया है कि इलेक्टोरल बॉन्ड के सबसे बड़े खरीदार Future Gaming and Hotel Services Pvt Ltd है।

New Update
aaa

Mamta Banerjee

लॉटरी किंग नाम से पहचाने जाने वाले सेंटियागो मार्टिन की कंपनी ने 1368 करोड़ रुपये के बॉन्ड खरीदे थे। उन्होंने ये बॉन्ड 12 अप्रैल 2019 से लेकर 24 जनवरी 2024 के बीच खरीदे थे। हालांकि, खास बात है कि मुख्य रूप से तमिलनाडु में संचालित होने वाली मार्टिन की कंपनी ने अन्य राज्यों में भी राजनीतिक दलों को चंदा दिया था।

Advertisment

किसने ? भुनाया सबसे ज्यादा?

मार्टिन की तरफ से दिए इलेक्टोरल बॉन्ड को भुनाने में दो राजनीतिक दल सबसे आगे हैं। इनमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस और तमिलनाडु में सत्तारूढ़ एमके स्टालिन की डीएमके है। आंकड़े बता रहे हैं कि टीएमसी ने ने 542 करोड़ रुपये के बॉन्ड भुनाए। वहीं, डीएमके ने 503 करोड़ रुपये के बॉन्ड भुनाए।

हालांकि, इनके अलावा भी कई दलों के नाम लिस्ट में हैं। आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस ने 154 करोड़ रुपये, भारतीय जनता पार्टी ने 100 करोड़ रुपये और कांग्रेस ने 50 करोड़ रुपये भुनाए हैं। कंपनी ने सिक्किम के कुछ दलों को भी चंदा दिया है।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment