Advertisment

घर से मंगाईं कंबल और दवाइयां, ED लॉकअप में ऐसे गुजरी CM केजरीवाल की रात

दिल्ली शराब घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार रात को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। उन्हें लगभग दो घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया। केजरीवाल को रात में ईडी लॉकअप में ही बितानी पड़ी।

New Update
hrr

रिपोर्ट के मुताबिक, केजरीवाल रात में ठीक से सो नहीं पाए। उन्हें रात में घर से कंबल और दवाइयां दी गई थीं।  इस मामले में आज केजरीवाल को पीएमएलए कोर्ट में पेश किया जाएगा। साथ ही उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाी हो सकती है। 

अरविंद केजरीवाल पहले ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जिन्हें पद पर रहते हुए गिरफ्तार किया गया है। उनसे पहले इसी साल झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भी गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उन्होंने गिरफ्तारी से पहले इस्तीफा दे दिया था। 

केजरीवाल के घर क्यों पहुंची थी ईडी?
दिल्ली की आबकारी नीति 2021-22 में कथित घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रही ईडी सीएम केजरीवाल को अब तक नौ समन जारी कर चुकी है।  गुरुवार को ईडी की टीम 10वां समन लेकर उनके घर पहुंची थी। 

इतने समन जारी करने के बाद भी केजरीवाल ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे। इस बीच केजरीवाल ने गिरफ्तारी से बचने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। हाईकोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था। 

सीएम केजरीवाल इसमें कैसे फंसे?
सीएम केजरीवाल को ईडी ने पिछले साल 2 नवंबर को पहला समन भेजा था। ये समन प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत जारी किया गया था।
ईडी की चार्जशीट में कई बार सीएम केजरीवाल का नाम है। आरोप है कि जब एक्साइज पॉलिसी 2021-22 तैयार की जा रही थी, तब कई आरोपी केजरीवाल के संपर्क में थे। 

ईडी ने एक चार्जशीट में दावा किया है कि एजेंसी ने भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) की नेता के. कविता के अकाउंटेंट बुचीबाबू का बयान दर्ज किया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि कविता, केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के बीच राजनीतिक समझ थी। इस दौरान कविता ने मार्च 2021 में विजय नायर से भी मुलाकात की थी। 

इस मामले में एक और आरोपी दिनेश अरोड़ा ने भी ईडी को बताया है कि उसने केजरीवाल से उनके आवास पर मुलाकात की थी। ईडी का कहना है कि वाईएसआर कांग्रेस के सांसद मंगुटा श्रीनिवासुलु रेड्डी और केजरीवाल के बीच कई मीटिंग्स हुई थीं। सीएम केजरीवाल ने दिल्ली के शराब कारोबार में रेड्डी की एंट्री का स्वागत किया था। 

पूछताछ में बुचीबाबू और आरोपी अरुण पिल्लई ने खुलासा किया है कि वो एक्साइज पॉलिसी को लेकर केजरीवाल और सिसोदिया के साथ मिलकर काम कर रहे थे। 

साथ ही आरोपी विजय नायर ने वीडियो कॉल के जरिए केजरीवाल और गिरफ्तार आरोपी समीर महेंद्रू में बात भी करवाई थी। इस दौरान केजरीवाल ने समीर से कहा था कि विजय उनका आदमी है और उसे उसपर भरोसा करना चाहिए। 

Advertisment
Latest Stories
Advertisment