बजट वाले दिन महंगाई का तगड़ा झटका... एलपीजी सिलेंडर हो गया महंगा, चेक करें नए रेट

आज संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अंतरिम बजट पेश करेंगी। इससे पहले ही देश में महंगाई का झटका लगा है, दरअसल, ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने 19 किलोग्राम वाला कॉमर्शियल गैस सिलेंडर (LPG Cylinder Price Hike) महंगा हो गया है।

New Update
aaaa

LPG cylinder becomes expensive

IOCL की वेबसाइट के मुताबिक, इसकी कीमतों में 14 रुपये का इजाफा किया गया है, जिसके बाद राजधानी दिल्ली में एक कॉमर्शियल सिलेंडर की कीमत बढ़कर 1769.50 रुपये हो गई है। बदलाव के नई दरें आज 1 फरवरी 2024 से लागू हो गई हैं।

19 किलोग्राम वाला सिलेंडर हुआ महंगा
ताजा बदलाव के बाद जहां दिल्ली में 19 किलोग्राम वाले कॉमर्शियल गैस सिलेंडर का दाम (Delhi LPG Cylinder Price) 1755.50 रुपये से बढ़कर 1769.50 रुपये कर दिया गया है। वहीं अन्य महानगरों की बात करें तो कोलकाता में एक सिलेंडर (Kolkata LPG Cylinder Price)  1869.00 रुपये से बढ़कर 1887 रुपये का कर दिया गया है। मुंबई में पहले जो कॉमर्शियल सिलेंडर 1708 रुपये का मिल रहा था, वो अब 1723 रुपये का मिलेगा। वहीं चेन्नई में इसकी कीमत 1924.50 रुपये से बढ़कर 1937 रुपये हो गई है।

publive-image

पिछले महीने मिली थी मामूली राहत
बीते 1 जनवरी 2024 19 किलोग्राम वाले सिलेंडर के दाम में मामूली राहत दी गई थी। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने 19 किलोग्राम वाले कॉमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में कटौती की थी। जिसके बाद दिल्ली से मुंबई तक पहली कॉमर्शियल गैस सिलेंडर 1.50 रुपये से लेकर 4.50 रुपये तक सस्ता हो गया था। बीते महीने की गई कटौती के बाद दिल्ली में 19 किलो वाले सिलेंडर की कीमत 1755.50 रुपये का और मुंबई में दाम 1708 रुपये का कर दिया गया था।

घरेलू सिलेंडर के दाम में बदलाव नहीं
कॉमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम में जहां बढ़ोतरी दी गई है, तो वहीं घरेलू गैस सिलेंडर के दाम स्थिर बने हुए हैं। दिल्ली में 14.2 किलोग्राम वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 903 रुपये, कोलकाता में 929 रुपये, मुंबई में 902.50 रुपये और चेन्नई में 918.50 रुपये का मिल रहा है। घरेलू गैस सिलेंडर के दाम (Domestic LPG Price) लंबे समय से स्थिर बने हुए हैं।

सुबह 11 बजे पेश होगा अंतरिम बजट
गौरतलब है कि आज संसद में सुबह 11 बजे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अपने कार्यकाल का छठा बजट पेश करेंगी। ये मोदी सरकार (Modi Govt) के दूसरे कार्यकाल का आखिरी बजट होगा, जो अंतरिम है। दरअसल, इस साल लोकसभा चुनाव होने वाले हैं और पूर्ण बजट चुनाव के बाद गठित होने वाली नई सरकार करेगी।।।

Advertisment
Latest Stories