Advertisment

बेटे की बार-बार सगाई टूटी तो मां ने उसकी प्रेमिका को घर बुलाकर मार डाला

भिंड के लहार में बड़ोखरी गांव में हुई युवती की हत्या का पुलिस ने किया पर्दाफाश।भिंड जिले के लहार थाना अंतर्गत बड़ोखरी गांव में युवती की हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज पर्दाफाश किया है।

New Update
भिंड के लहार क्षेत्र में हत्या की वारदात।

भिंड के लहार क्षेत्र में हत्या की वारदात।

भिंड जिले के लहार थाना अंतर्गत बड़ोखरी गांव में युवती की हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज पर्दाफाश किया है। युवती की हत्या उसके प्रेमी की मां ने की थी। आरोपित महिला का कहना है कि युवती ने बेटे को प्यार के चंगुल में फंसा रखा था, जिसके चलते बेटे की दो बार सगाई टूट गई थी।

Advertisment

एसपी डा. असित यादव ने बताया कि लहार के बड़ोखरी गांव में सुरेश शाक्य की 22 वर्षीय बेटी आरती 18 रविवार को छोटे भाई पुष्पेंद्र को सोता छोड़कर करीब 10 बजे घर से चली गई थी। सुबह जब पुष्पेंद्र ने बहन को घर में नहीं पाया तो गेट बाहर से बंद था तो पड़ोसियों की मदद से गेट खुलवाकर बहन की तलाश की।
आरती का का शव करीब 100 मीटर दूर तिलक सिंह राजावत के बाड़े में भूसा के कूप में मिला। उसके मुंह में भूसा भरा था, गले में निशान मिले थे। पुलिस ने अज्ञात हत्यारोपित पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था।
गांव में पूछताछ की तो पता चला कि युवती का प्रेम प्रसंग गांव के शैलेंद्र सिंह चौहान से चल रहा था। पुलिस ने युवती के मोबाइल नंबर की डिटेल निकाली तो अंतिम बार बातचीत छुन्नाी पत्नी जगत सिंह चौहान निवासी बड़ोखरी से हुई थी।

उससे पूछताछ की तो पहले तो उसने कहा कि उसकी सिर्फ मोबाइल पर बात हुई थी, लेकिन बाद में हत्या करना स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि आरती और शैलेंद्र के प्रेम प्रसंग से गांव और समाज में उनकी बदनामी होने लगी थी।

बेटे की दो बार सगाई टूट चुकी थी। आरती शादी के लिए भी दबाव बना रही थी। बेटे को पति के साथ अहमदाबाद भेज दिया फिर भी युवती बेटे से बात कर रही थी इसलिए बेटा अन्य जगह शादी नहीं कर रहा था।

18 फरवरी की रात उसने आरती को काल कर बुलाया और तिलक सिंह के बाड़े में ले गई। यहां बेटे से बात करना बंद करने का कहा परंतु वह नहीं मानी। बातों-बातों में भूसा के कूप में ले गई और शाल व दुपट्टा से गला दबाकर हत्या कर दी। शव भूसा में छिपा दिया और वहां से भाग गई।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment