Advertisment

कर्तव्य पथ पर MP की झांकी ने किया प्रभावित, थीम थी “आत्मनिर्भर नारी-विकास का मूल मंत्र

प्रदेश की झांकी के पिछले हिस्से में “मिलेट वूमन ऑफ़ इंडिया” के बैनर के नीचे बांस टोकनियों में रखे विभिन्न प्रकार के श्रीअन्न के साथ डिंडोरी जिले की सुश्री लहरी बाई की प्रतिकृति दिखाई गई।

New Update
mp

प्रदेश की झांकी के पिछले हिस्से में “मिलेट वूमन ऑफ़ इंडिया” के बैनर के नीचे बांस टोकनियों में रखे विभिन्न प्रकार के श्रीअन्न के साथ डिंडोरी जिले की सुश्री लहरी बाई की प्रतिकृति दिखाई गई।

प्रदेश की झांकी के पिछले हिस्से में “मिलेट वूमन ऑफ़ इंडिया” के बैनर के नीचे बांस टोकनियों में रखे विभिन्न प्रकार के श्रीअन्न के साथ डिंडोरी जिले की सुश्री लहरी बाई की प्रतिकृति दिखाई गई।

Advertisment

75 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली के कर्तव्य पथ पर मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया, यहाँ तीनों सेना सहित अन्य सुरक्षा दलों ने आकर्षक परेड की, हैरत अंगेज प्रदर्शन किये। अलग अलग राज्यों की झांकियां भी कार्यक्रम में आकर्षण का केंद्र रही। कर्त्तव्य पथ पर मध्य प्रदेश की झांकी भी निकाली गई, इसकी थीम थी “आत्मनिर्भर नारी-विकास का मूल मंत्र”। प्रदेश की झांकी ने उपस्थित जनसमूह को बहुत प्रभावित किया, सीएम डॉ मोहन यादव ने परेड को अपने सोशल मीडिया एकाउंट X पर शेयर किया है।


दिल्ली के कर्तव्य पथ पर मध्य प्रदेश की झांकी में नारी शक्ति का प्रदर्शन किया गया, झांकी में मध्य प्रदेश के विकास की झलक भी देखने को मिली, झांकी में प्रदेश की समृद्धि, संस्कृति और महिला सशक्तिकरण का प्रदर्शन आकर्षण का केंद्र रहा। आधुनिक सेवा क्षेत्र, लघु उद्योग और पारंपरिक क्षेत्र में समान रूप से सक्रिय प्रदेश की महिलाओं की उन्नति को इस झांकी में दर्शाया गया। झांकी में खेत-खलिहान से लेकर एयरफोर्स में प्रदेश की नारियों की सशक्त सहभागिता को भी दिखाया गया।

झांकी के सबसे आगे के हिस्से में भारतीय वायुसेना की प्रथम महिला फाइटर पायलट रीवा जिले की अवनी चतुर्वेदी मिग बाइसन लड़ाकू विमान के साथ दिखाई दी । अगले हिस्से के निचले भाग में गोंड चित्रकारी प्रदर्शित की गई, झांकी के बीच के हिस्से में महिला कलाकार मटके पर चित्रकारी करती दिखाई दी। चंदेरी के बादल महल गेट की पृष्ठभूमि में बुनकर महिलाएं चंदेरी, महेश्वरी और बाघ प्रिंट साड़ियों का विक्रय  का प्रदर्शन करती दिखाई दी। मध्य भाग के निचले हिस्से में पद्मश्री से सम्मानित श्रीमती दुर्गाबाई की गोंड भित्ति चित्रकारी और साथ में स्टोन कार्विंग करते हुए महिला कलाकार दिखाई दी।
 
प्रदेश की झांकी के पिछले हिस्से में “मिलेट वूमन ऑफ़ इंडिया” के बैनर के नीचे बांस टोकनियों में रखे विभिन्न प्रकार के श्रीअन्न के साथ डिंडोरी जिले की सुश्री लहरी बाई की प्रतिकृति दिखाई गई। इसके निचले हिस्से में विभिन्न श्रीअन्न से निर्मित भित्ति चित्र दिखाए गए। झांकी के साथ “विकसित-सक्षम-सशक्त-समृद्ध, हमारा प्यारा मध्यप्रदेश” की धुन पर महिला कलाकारों का समूह मालवा अंचल का मटकी लोक नृत्य करता दर्शाया गया।

 

Advertisment
Latest Stories
Advertisment