वेटिंग टिकट से जल्द मिलेगी यात्रियों को राहत: रेलमंत्री

लोकसभा में गुरूवार को आम बजट के साथ पेश हुये रेल बजट 2024-25 के लिए इस बार पूरे भारतीय रेल को 2.52 करोड़ तथा मध्यप्रदेश के लिए सर्वाधिक 15,143 करोड़ रुपये बजट का प्रावधान रखा गया है।

New Update
Jabalpur Railways Update: पितृपक्ष पर जबलपुर से गया के लिए चलेगी स्पेशल यात्री गाड़ी

Relief from waiting tickets

आर्य समय  संवाददाता,जबलपुर। यही नहीं आगामी पांच वर्षो में मध्यप्रदेश के अंदर चल रही विभिन्न परियोजनाओं के साथ-साथ नई रेलवे लाइन डालने तथा नई ट्रेनों को चलाने के लिए 77 हजार करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे ताकि आने वाले समय में रेल यात्रियों को वेटिंग टिकट से राहत दी जा सके,सभी को वेटिंग नहीं बल्कि कंफर्म टिकट प्राप्त हो सके। उक्त की जानकारी केन्द्रीय रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पत्रकारों को दी गई।

Advertisment

रेलमंत्री ने बताया कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में10 वर्षों में रेलवे के विकास के लिए रणनीति में बदलाव कर अधिक से अधिक निवेश पर बल दिया गया है जिससे रेलवे पर क्षमता वृद्धि,आधुनिकीकरण,संरक्षा और यात्री सुविधाओं की ओर अधिक ध्यान दिया जा रहा है। वर्ष 2024-25 में रेलवे को 2.52 लाख करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है जो अभी तक का सर्वाधिक आवंटन है। वैष्णव ने मध्यप्रदेश के रेल विकास के बारे में जानकारी प्रदान करते हुए बताया कि मध्यप्रदेश बहुत बड़ा प्रदेश है।

वर्ष 2009 से 14 तक मध्यप्रदेश को औसत बजट मात्र 632 करोड़ रुपये प्रति वर्ष मिलता था जिसे नरेन्द्र मोदी ने बढ़ाकर अब वर्ष 2024-25 के बजट में 15,143 करोड़ रुपये आवंटन किया गया है जो अभी तक का सर्वाधिक बजट आवंटन है। वैष्णव ने बताया कि मध्यप्रदेश में आगामी 5 वर्षों में 77 हजार करोड़ रुपये के निवेश का प्रावधान रखा गया है। इसके अंतर्गत 80 रेलवे स्टेशनों को अमृत स्टेशन योजना के तहत पुनर्विकसित किया जा रहा है।

15 किलोमीटर का नया रेलवे ट्रेक रोजाना डाला जा रहा है ताकि जल्द से जल्द नई ट्रेनों की शुरूआत हो सके और यात्रियों को सीधे कंफर्म यात्रा टिकट प्राप्त हो सके।  रेलमंत्री के रेलवे बजट पर हुई वर्चुअली प्रेसकाँफ्रेंस में पश्चिम मध्य रेलवे की महाप्रबंधक शोभना वंदोपाध्याय भी सभागार में उपस्थित रहीं।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment