Advertisment

जबलपुर लोकसभा चुनावः चुनाव ड्यूटी से बचने अगर बीमारी का दिया हवाला तो मेडिकल बोर्ड करेगा पड़ताल

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर दीपक सक्सेना ने रविवार को जिला निर्वाचन कार्यालय की विभिन्न शाखाओं के नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर लोकसभा चुनाव की अभी तक की गई तैयारियों की समीक्षा की। 

New Update
जिला निर्वाचन अधिकारी 

election to be questioned

जबलपुर।श्री सक्सेना ने नोडल अधिकारियों को निर्वाचन संबंधी सभी कार्यों का संपादन निर्वाचन आयोग के निर्देशों के मुताबिक तय समय पर करने के निर्देश दिये है।कलेक्टर कार्यालय में आयोजित नोडल अधिकारियों की इस बैठक में अपर कलेक्टर मिशा सिंह, जिला पंचायत की सीईओ जयति सिंह, नगर निगम आयुक्त प्रीति यादव, अपर कलेक्टर नाथूराम गोंड, जबलपुर विकास प्राधिकरण के सीईओ दीपक वैद्य एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी धीरेंद्र सिंह भी मौजूद थे। 

Advertisment

जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सक्सेना ने सफल, निष्पक्ष और निर्विघ्न निर्वाचन संपन्न कराने सभी नोडल अधिकारियों को एक टीम की तरह काम करने तथा आपस में बेहतर तालमेल बनाये रखने पर जोर दिया। उन्होंने नोडल अधिकारियों को भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का गहराई से अध्ययन करने की सलाह दी तथा उनका शत -प्रतिशत पालन करने के निर्देश दिये ।

कलेक्टर ने बैठक में मतदान कार्मिकों की नियुक्ति एवं उनके प्रशिक्षण से लेकर ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपेट मशीनों के रेंडमाइजेशन,मतदान दलों को सामग्री वितरण, वाहनों की व्यवस्था, रुट चार्ट, मतदान सामग्री की वापसी तथा निर्वाचन के दौरान उपयोग किये जाने वाले विभिन्न पोर्टलों, साफ्टवेयर मैनेजमेंट, निर्वाचन कर्तव्य प्रमाण पत्र, डाक मतपत्रों की व्यवस्था, दिव्यांग एवं 85 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं को डाकमत पत्र से घर से मतदान की सुविधा, मत पत्रों की प्रिंटिंग, ईव्हीएम मशीनों की कमीशनिंग, स्ट्रांग रूम प्रबंधन, प्रेक्षक प्रबंधन, शिकायत निवारण एवं हेल्पलाइन सेंटर की व्यवस्था, कम्युनिकेशन प्लान, व्यय लेखा प्रबंधन तथा मतदान के दिन की व्यवस्थाओं पर विस्तार से चर्चा की। 

इसी के साथ उम्मीदवारों तथा राजनैतिक दलों को लगने वाली अनुमतियों और एनओसी देने के लिये एकल खिड़की व्यवस्था, अनुमतियों के लिये प्राप्त ऑनलाइन आवेदनों का निराकरण, सी विजिल एप पर प्राप्त शिकायतों के निराकरण की व्यवस्था की समीक्षा भी जिला निर्वाचन अधिकारी ने नोडल अधिकारियों की बैठक में की। 

श्री सक्सेना ने बैठक में चुनाव कर्मियों के प्रशिक्षण पर ज्यादा जोर दिया तथा प्रशिक्षण से अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रस्तावित करने के निर्देश दिये । उन्होंने बीमारी का बहाना बनाकर चुनाव ड्यूटी कैंसल कराने वाले कर्मचारियों-अधिकारियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिये मेडिकल बोर्ड गठित करने कहा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतदाताओं को जागरूक करने चलाई जा रही स्वीप की गतिविधियों पर भी बैठक में चर्चा की।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment