Advertisment

मॉ के ईलाज नाम फार्चुनर कार ले गया निजाम, फिर रख दी गिरवी

मां के इलाज के नाम पर फार्चुनर कार ले गए एक आरोपी ने गाड़ी को गिरवी रख दिया । युवक द्वारा बार-बार मांगने पर आरोपी कुछ न कुछ बहाना देता रहा । जिसके बाद उसने शिकायत करते हुए पुलिस को इस मामले से अवगत कराया ।

author-image
By Shivansh Shukla
New Update
जबलपुर

Fortuner car

जबलपुर।इस मामले में गढा थाना प्रभारी नीलेश दोहरे ने बतया कि 29 वर्षीय आबिद शाह निवासी मुजावर मोहल्ला रानी दुर्गावती वार्ड, गढ़ा ने लिखित शिकायत की कि वह पुरानी कार बेचने-खरीदने का कार्य घर से करता है । निजाम सिंह भदौरिया उर्फ करन भदौरिया पूर्व मे उससे 2-3 वाहन क्रय कर चुका था, इस कारण उससे करीब एक-डेढ़ साल से परिचय हो गया था। निजाम सिंह उर्फ करन भदौरिया डेढ़-दो माह पहले आया और अपनी माँ का स्वास्थ्य खराब होने की बात कहकर अपनी को डॉक्टर के पास ले जाने के लिए उसके पास बिकने के लिए आई टोयोटा कंपनी की फार्चुनर कार गाड़ी क्रमांक एमपी 20 सीएफ 8886 को ले गया । उक्त गाड़ी का मालिक राजा कोष्टा है । आबिद शाह ने पुलिस को बताया कि उसने गाड़ी वापस मांगने निजाम सिंह भदौरिया को फोन पर कई बार संपर्क किया, लेकिन वह बाहर होने का बहाना देता रहा । ऐसे करते-करते वह कई दिनों तक उसे टालता रहा, और आखिर मेंं उसका फोन उठाना बंद कर दिया । 

 गाड़ी जब्त, आरोपी फरार
 पुलिस द्वारा जब इस मामले में आरोपी करन उर्फ निजाम ंिसह भदौरिया निवासी गोटेगांव जिला नरसिंहपुर की सरगर्मी से तलाश की गई तो पुलिस को पता चला कि आरोपी ने मां के इलाज के नाम पर मंगाई फार्चुनर कार गोटेगॉव निवासी राजेश झारिया के पास गिरवी रख दिया है । पुलिस द्वारा जब राजेश झारिया के घर पर दबिश दी गई तो पता चला कि वह गाड़ी लेकर जबलपुर गया हुआ है । जिसके बाद पुलिस ने पतासाजी करते हुए थाना सिविल लाईन अंतर्गत बनी स्टार होटल के पास फार्चुनर वाहन एवं 30 वर्षीय राजेश झारिया निवासी गोटेगॉव को गिरफ्तार कर लिया गया है । वहीं फरार आरोपी करन उर्फ निजाम सिंह भदौरिया की पुलिस द्वारा सरगर्मी से तलाश की जा रही है ।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment