Jablapur News: आशा-उषा कार्यकर्ताओं का आरोप, आयुष्मान कार्ड बनाने किया जा रहा प्रताड़ित

आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए अनुचित तरीके से दबाव डाले जाने आक्रोशित आशा-उषा कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर जमकर हंगामा किया। 

New Update
making Ayushman cards

Asha-Usha workers

जबलपुर। उनका यह भी आरोप था कि जिन आशाओं ने आयुष्मान कार्ड बनाया है, उन्हें उसके लिए भुगतान भी नहीं किया जा रहा है। जबकि आशाओं की पहले से ही राशि लंबित है। आखिर आशा उषा कार्यकर्ता 6 हजार में कितना काम करेंगी। इन सभी मांगों को लेकर जबलपुर की आशा उषा सहयोगी एकता यूनियन ने कलेक्टर कार्यालय में प्रदर्शन किया और एसडीएम को ज्ञापन  सौंपा। 

Advertisment

प्रदर्शन कर रही आशा उषा कार्यकर्ता कलेक्टर से मिलने के लिए अड़ी रही। जिसके बाद एसडीएम ने आशा उषा कार्यकर्ताओं से कलेक्टर से मुलाकात कराई। कलेक्टर के आश्वासन के बाद आशा उषा कार्यकर्ताओं का विरोध शांत हुआ। 

आशा उषा यूनियन की जिला महासचिव पूजा कनौजिया ने बताया की आशा उषा कार्यकर्ताओं का निश्चित वेतन 6 हजार ही है। बावजूद इसके आयुष्मान कार्ड बनाने का दबाव भी बनाया जा रहा है।

Advertisment

 सैकड़ो ज्ञापन के माध्यम से आशा उषा कार्यकर्ताओं का वेतन 10 हजार किए जाने की मांग की जा चुकी है। लेकिन शासन प्रशासन इस और ध्यान नहीं दे रहा है। दूसरी तरफ जब अधिकारी से इस विषय पर बात की जाती है तब वह भोपाल जाने के लिए कहते हैं।

आशा उषा कार्यकर्ताओं का कहना है कि एनएचएम के लिए पर्याप्त बजट आवंटन किया जाए। साथ ही आशा उषा कार्यकर्ताओं का निश्चित वेतन 6 हजार से बढाकर तत्काल 10 हजार भी किया जाए और पूर्व में प्रोत्साहन राशि के सभी बकाया राशियों का तत्काल भुगतान किया जाए।आशा उषा कार्यकर्ताओं का कहना है यदि मांगे पूरी नहीं होती है। तब 16 फरवरी को औद्योगिक संस्थान में हड़ताल और ग्रामीण इलाकों को बंद किया जाएगा। जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।

Advertisment
Latest Stories