Jabalpur News: मप्र में हजारों छात्रों ने दी 10वीं की परीक्षा, कल से शुरू होगी 12वीं की परीक्षा

मध्य प्रदेश में 2024 हाईस्कूल (10वीं ) की परीक्षा आज सोमवार से शुरू हो गई है। वही हायर सेकेंडरी 12वीं की परीक्षा कल मंगलवार से शुरू होने जा रही है। परीक्षाओं को लेकर माध्यमिक शिक्षा मंडल ने अपनी तैयारियां पूरी हैं।

author-image
By Shivansh Shukla
New Update
 Thousands of students appeared for 10th class exam

Thousands of students appeared for 10th class exam

जबलपुर। परीक्षाओं में नकल व पेपर लीक होने की संभावनाओं को कम करने के लिए पेपर के बंडल परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले ही थाने से परीक्षा केन्द्र पर पहुंचें। परीक्षा में खास बात यह है कि नकल और किसी भी तरह की अप्रिय घटना को लेकर कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना ने अपने प्रतिनिधि नियुक्त किए है। परीक्षा के दौरान पुलिस की भी चौकस निगाह केंद्र के आसपास रहेगी। आज से शुरू हो रही दसवीं की परीक्षा में 26 हजार 503 छात्र परीक्षा देंगे। वहीं मंगलवार को हायर सेकेंडरी की परीक्षा में 19 हजार 469 परीक्षार्थी परीक्षा दें रहे हैं । परीक्षा केंद्र के गेट के साथ-साथ क्लास में भी छात्रों की तलाशी ली गई, उसके बाद ही अंदर प्रवेश दिया गया।

Advertisment

प्रत्येक केंद्र में तैनात रहेंगे प्रतिनिधि   
माध्यमिक शिक्षा मंडल ने इस साल परीक्षा को लेकर कुछ नए नियम बनाए है। जिले में कलेक्टर के प्रतिनिधि हर केन्द्र में तैनात रहेंगे। परीक्षा शुरू होने के एक घंटे तक उन्हें हर हाल में रूकना ही होगा। परीक्षा सुबह 9 बजे से लेकर 12 बजे तक होगी। 8.30 बजे प्रश्न-पत्र के बॉक्स खोल सकेंगे। पेपरों के सील बंद पैकेट परीक्षा कक्ष में सुबह 8.45 बजे पहुंच जाएंगे। पर्यवेक्षक सुबह 8.55 बजे सील खोलकर पेपर परीक्षार्थियों को वितरित करेंगे एवं जो प्रश्न-पत्र शेष बचेंगे, उन्हें पर्यवेक्षक केन्द्राध्यक्ष कार्यालय में जमा कराएंगे। कलेक्टर प्रतिनिधि को परीक्षा के प्रत्येक दिन सुबह 10 बजे तक केंद्र पर अनिवार्यत: मौजूद रहना होगा। सभी पर्यवेक्षकों को परीक्षा के पहले दिन डेढ़ घंटा पहले और परीक्षा के शेष दिनों में एक घंटा पहले परीक्षा केन्द्र पर उपस्थित होना होगा।

मोबाइल फोन नहीं रख सकेगा स्टाफ
परीक्षा केन्द्र में कलेक्टर के प्रतिनिधि को छोड़कर केन्द्राध्यक्ष व सहायक केन्द्राध्यक्ष सहित किसी को भी मोबाइल फोन रखने की इजाजत नहीं रहेगी। कलेक्टर प्रतिनिधि के अतिरिक्त यदि कोई भी मोबाइल लाता है तो कलेक्टर प्रतिनिधि के समक्ष ही मोबाइल फोन रखकर सील्ड कर उसका प्रमाण-पत्र दिया जाएगा। कलेक्टर के निर्देश पर प्रतिनिधि हर उस व्यक्ति पर नजर भी बनाए रखेगें जो कि परीक्षा के दौरान संदिग्ध नजर आता है। किसी भी कीमत में न ही मोबाइल या फिर स्मार्ट वाँच कोई भी नहीं परीक्षा केंद्र में नहीं ला सकता है।

Advertisment

पुलिस थाने पहुंचकर लेनी होगी सेल्फी 
केन्द्र अध्यक्ष एवं कलेक्टर द्वारा नियुक्त प्रतिनिधि प्रश्न-पत्र का बॉक्स प्राप्त करने के लिये संबंधित पुलिस थाने में हर हाल में सुबह 6 बजे तक पहुंचना ही होगा। कलेक्टर प्रतिनिधि सहित केन्द्राध्यक्ष को प्रश्न पत्र ले जाने के लिए पुलिस थाने में पहुंचकर सेल्फी लेनी है, और फिर उसे शिक्षा विभाग के एप पर अपलोड करना भी होगा, इसी तरह परीक्षा केन्द्र पर पहुंचकर भी टीचर को सेल्फी अपलोड की जानी है।

जबलपुर में बनाए गए 104 परीक्षा केंद्र 
माध्यमिक शिक्षा मंडल की आज से शुरू हो रही परीक्षा के लिए जबलपुर में 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। शिक्षा विभाग ने ग्रामीण क्षेत्रों में 56 परीक्षा केंद्र बनाए है जबकि शहरी क्षेत्र में 48 केंद्र होगे। नियमित छात्रों के 96 जबकि प्राइवेट छात्रों के लिए शिक्षा विभाग ने 8 केंद्र बनाए है। जबलपुर जिले में 11 संवेदनशील परीक्षा केंद्र है जिसमें कि प्राइवेट के लिए 8 जबकि नियमित छात्रों के लिए 3 केंद्र है।

इनका कहना है
 जबलपुर जिले में 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा के प्रथम दिन आज दसवीं के छात्रों ने हिंदी का पेपर दिया। वही 12वीं की परीक्षा कल से शुरू होने जा रही है। परीक्षाएं ठीक से संपन्न कराने प्रत्येक केन्द्रो में कलेक्टर के प्रतिनिधि भी शामिल रहे।

घनश्याम सोनी, जिला शिक्षा अधिकारी

Advertisment
Latest Stories