Advertisment

Jabalpur News: चिल्लर लेकर नामांकन फार्म लेने पहुंचा प्रत्याशी, गिनते-गिनते कर्मचारियों के छूटे पसीने... कलेक्टर बोले सब मीडिया फुटेज का चक्कर

आगामी लोकसभा चुनावों के लिए बुधवार 20 मार्च से कलेक्ट्रेट कार्यालय में इच्छुक प्रत्याशियों के लिए नामांकन पत्र प्राप्त करने का कार्य प्रारंभ हो गया है।

author-image
By Shivansh Shukla
New Update
all about media footage

candidate came to collect

जबलपुर । आगामी लोकसभा चुनावों के लिए बुधवार 20 मार्च से कलेक्ट्रेट कार्यालय में इच्छुक प्रत्याशियों के लिए नामांकन पत्र प्राप्त करने का कार्य प्रारंभ हो गया है, इसी क्रम में एक इच्छुक प्रत्याशी नामांकन पत्र लेने हजारों रूपयों की चिल्लर लेकर पहुंचा।

Advertisment

दरअसल, बुधवार को जबलपुर लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र लेने यादव कॉलोनी निवासी विनय चक्रवर्ती अपने साथियों के साथ कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। जब उन्होंने नामांकन पत्र लेने के लिए ऑनलाइन पेमेंट करने की बात कही तो निर्वाचन के कार्य में लगे कर्मचारियों ने ऑनलाइन पेमेंट लेने से मना कर दिया ।

गाड़ी से लेकर आए चिल्लर का थैला
अधिकारियों द्वारा ऑनलाइन पेमेंट लेने से मना करने के बाद प्रत्याशी विनय चक्रवर्ती अपनी गाड़ी में रखे चिल्लरों से भरे थैले को लेकर कार्यालय पहुंच गए । जिसे देखकर कर्मचारियों के होश उड़ गए। अब हालात ऐसे बन गये कि ना चाहते हुए भी कर्मचारियों को 25 हजार रुपए के सिक्के गिनने पड़े, जिसमें लगभग आधा घण्टा कर्मचारियों का व्यर्थ चला गया और आखिर में प्रत्याशी को नामांकन पत्र दिया गया।    

कलेक्टर ने कहा ये गलत बात
इस संबंध में कलेक्टर दीपक सक्सेना ने कहा कि बुधवार को विनय चक्रवर्ती नामक व्यक्ति नामांकन पत्र लेने आए थे, जिन्होंने 2 रुपए, 5 रुपए एवं 10 रुपए के सिक्कों के रुप में 25 हजार की चिल्लर दी‌। कलेक्टर श्री सक्सेना ने कहां कि ये अच्छी बात है कि ये भारतीय मुद्रा है । लेकिन नामांकन पत्र लेने पहुंचे प्रत्याशी सिर्फ मीडिया का फुटेज लेने के चक्कर मेें ऐसा कर रहे हैं, जो कि गलत बात है। नामांकन पत्र लेने आ रहे प्रत्याशियों को ये सोचना चाहिए कि कर्मचारी लोकसभा चुनाव के कामों में लगे हुए हैं। ऐसे में उनका कितना समय बर्बाद हो रहा है ।

Advertisment

news

all about media footage

Advertisment
Latest Stories
Advertisment