Advertisment

Jabalpur News: दोहरे हत्याकांड के आरोपी संग दवाई खरीदती हुई दिखी नाबालिक

रेलवे कर्मी राजकुमार विश्वकर्मा एवं उनके 8 वर्षीय बेटे तनिष्क विश्वकर्मा की हत्या मामले को लगभग दो दिन बीतने को आए हैं। इधर इस हत्याकांड में फरार चल रहे आरोपी मुकुल सिंह एवं मृतक की नाबालिक बेटी का पता लगाने पुलिस अब दूसरे राज्यों की पुलिस से भी संपर्क साधने में जुट गई है।

author-image
By Shivansh Shukla
New Update
दोहरे हत्याकांड के आरोपी

Minor seen buying medicines

जबलपुर। बताया जा रहा है कि आरोपी की आखिरी लोकेशन कटनी में होना पाई गई थी। इसके बाद से ही आरोपी एवं नाबालिक बेटी का कुछ पता नहीं चल रहा है। इसके अलावा सिविल लाइन पुलिस द्वारा आरोपी मुकुल सिंह के साथ उठने बैठने वालों के साथ भी पूछताछ की जा रही है। 

Advertisment

एसपी आदित्य सिंह प्रताप ने बताया कि हत्या में शामिल आरोपी फूल प्रूफ प्लानिंग के साथ भागे हुए हैं। वही एक चर्चा यह भी है कि मृतक ने पुलिस को एक आवेदन देकर जान का खतरा होना बताया था। इस बात पर एसपी का कहना है कि यह मामला फिलहाल अभी उनके संज्ञान में नहीं है। उनका कहना है कि आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी कर ली जाएगी।


 यह है पूरा घटनाक्रम
दरअसल सिविल लाइन थाना अंतर्गत बनी रेलवे मिलेनियम कॉलोनी में विगत 15 मार्च को 2 हत्याएं होने की सूचना पुलिस को मिलती है। मौके पर पहुंची पुलिस की टीम के साथ फोरेंसिक एक्सपर्ट भी पहुंच जाते हैं। जो बारीकी से मामले की पड़ताल करने में जुट जाते हैं। मृतकों की पहचान 55 वर्षीय रेलवे कर्मी राजकुमार विश्वकर्मा एवं पत्र 8 वर्षीय तनिष्क विश्वकर्मा होती है। वहीं मृतक की 14 वर्षीय बेटी लापता होती है। जांच में पता चलता है कि वह इस हत्या की वारदात में शामिल प्रेमी मुकुल सिंह के साथ गायब हो गई है। 


पहेली बना वॉइस मैसेज
इस जघन्य वारदात के बाद एक सवाल लोगों के मन में उठ रहा है। वो यह है कि नाबालिक काया विश्वकर्मा जिस आरोपी मकर विश्वकर्मा के साथ फरार हुई है, उसने उसी के खिलाफ परिजनों को वॉइस मैसेज देकर यह क्यों कहा कि मुकुल सिंह ने उसके पिता और भाई की हत्या कर दी है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि पुलिस द्वारा बचने के लिए काया  विश्वकर्मा ने सोच समझ कर यह चाल चली होगी। और संभवत पकड़े जाने पर पुलिस को यह बता सके की आरोपी मुकुल ने उसके पिता एवं पुत्र की हत्या कर उसको किडनैप कर ले गया था। या फिर 
लड़की दबाव में थी। वही एक फुटेज में ये भी दिख रहा है कि लड़की के हाथ में चोट है, अधारताल स्थित दवा दुकान से उसके बेंडेज और दर्द की दवा ली है।

Advertisment


अन्य राज्यों की पुलिस से भी संपर्क
हत्याकांड के बाद से फरार चल रहे हैं आरोपी मुकुल सिंह एवं नाबालिक बेटी को पकड़ने के लिए पुलिस हर संभावित प्रयास करने में जुटी हुई है। बताया जा रहा है कि पुलिस अब प्रयागराज बनारस अयोध्या आदि जिलों की पुलिस से भी संपर्क साधकर उनका पता लग रही है। 

केंद्रीय विद्यालय पड़ती है नाबालिक
 पुलिस द्वारा पूछताछ पर मृतक राजकुमार के परिचित ने पुलिस को बताया कि सितम्बर 2023 में नाबालिग बेटी का अपहरण होने के बाद से राजकुमार परेशान थे। राजकुमार ने अपने ट्रांसफर के लिए आवेदन देने की बात बताई थी। मृतक राजकुमार की पत्नी आरती विश्वकर्मा की मौत मई 2023 में हो गई थी। पत्नी की मौत के बाद राजकुमार अपने बेटे और बेटी की देखरेख करते थे, दोनों बच्चे सेंट्रल स्कूल के स्टूडेंट थे।


तबादला कराना चाहते थे मृतक राजकुमार
 परिजनों से पूछताछ पर पुलिस को पता चला है कि पत्नी की मृत्यु के बाद से ही मृतक राजकुमार पूरी तरह टूट गए थे। उन्हें हमेशा अपने बच्चों एवं नौकरी की चिंता सताती रहती थी । जैसे ही छुट्टी मिलती वो दोनों बच्चों को लेकर अपने गांव पिपरिया चले जाते थे। परिजनों ने बताया कि राजकुमार विश्वकर्मा का सोचा था कि पिपरिया में भरा-पूरा परिवार है। दोनों बच्चे साथ में रहेंगे तो उनका मन लगा रहेगा। बताया जा रहा है कि इस दौरान उन्होंने जबलपुर से पिपरिया-इटारसी ट्रांसफर के लिए आवेदन भी किया था।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment