Jabalpur News: किसानों ने अधिकारियों पर लगाए लापरवाही के आरोप, धान संबंधी पेमेंट का मामला

कलेक्टर दीपक कुमार सक्सेना के निर्देश पर किसानों के धान संबंधी भुगतान के निराकरण के सिलसिले में एक टीम पनागर में बरोदा ग्राम पहुंची थी।

New Update
Farmers accuse officials of negligence

Farmers accuse officials of negligence

जबलपुर। जिसमे संयुक्त धन सिंह से लेकर बारे में कलेक्टर नदीमा सीरी, जेएसओ रोशनी पांडे, प्रशासक पनागर विवेक जैन आदि शामिल रहे। इस दौरान अधिकारियों द्वारा किसानों से धान भुगतान के विषय में बातचीत की गई। साथ ही संबंधित दस्तावेज स्वरूप कागजात भी प्रस्तुत किए गए। लेकिन आखिर में कोई हल नहीं निकला। इस संबंध में  धर्मेन्द्र पटैल न ने बताया कि आज शनिवार 10 फरवरी को अधिकारियों की एक टीम धान भुगतान न होने के सिलसिले में किसानों से बात करने आई थी।

Advertisment

लेकिन मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने मामले का न तो भौतिक सत्यापन किया और न ही कोई जांच ही की गई, बल्कि पहुंचे अधिकारी किसानों से ही पूछने लगे की वे बताए कौन से किसान असली पंजीकृत किसान है और कौन से नकली। किसानों ने बताया कि बैठक में पहुंचे अधिकारियों नें ना तो किसानों के मामले को निराकरण के संबंध में कोई खास रुचि दिखाते नही दिखे और प्रस्तुत किए गए कागजात वही छोड़ कर चलते बने।

आर्थिक तंगी की स्थिति से ज़ूझ रहा किसान 
इस संबंध में किसान एवं कांग्रेस नेता रूपेंद्र पटेल ने बताया कि आज पनागर के ग्राम बरोदा में कुछ अधिकारी आए थे। जो उल्टा हमसे ही कहने लगे कि फर्जी किस बताओ। उन्होंने बताया कि लगभग एक माह होने को जा रहा है, लेकिन अब तक किसान की धान की पेमेंट नहीं की गई है।

उन्होंने बताया कि किसने की आर्थिक स्थिति इतनी खराब हो गई है कि उन्हें अपनी बीमारियों, निजी काम एवं अन्य चीजों के लिएकर्ज उठाना पड़ रहा है। किसानों ने सरकार से अपील की है कि जल्द से जल्द उनकी धान का पेमेंट किया जाए।

Advertisment