Jabalpur News: ऐप से बनायी जोड़ी, अब पति हिमाचल छोड़ जाना चाहता है यूके, मांग रहा 15 लाख

एक ऑनलाइन ऐप के जरिए हुई शादी के बाद पति एवं उसके परिवार वालों द्वारा महिला को रुपयों के लिए प्रताडि़त किया जाने लगा। पैसे ना देने पर महिला को ससुराल वालों द्वारा घर से निकाल दिया गया। जिसके बाद महिला जबलपुर स्थित अपने माता-पिता के यहां रहने लगी।

New Update
Pair made with app

जबलपुर । इस मामले में विजयनगर थाने में मंगलवार 13 फरवरी को 32 वर्षीय निशा तनेजा निवासी कंचन विहार गली नम्बर 6 थाना विजयनगर ने लिखित शिकायत कर बताया कि उसकी शादी जीवनसाथी एप के माध्यम से मोबाइल फोन द्वारा बातचीत करके दोनों परिवार के आपस में मिलने के बाद सभी की मर्जी से विगत 9 जुलाई 2022 को चंडीगढ़ आर्य समाज मंदिर से हिन्दू रीति रिवाज से 38 वर्षीय सचिन ठाकर निवासी वार्ड नम्बर 2 ठाकुर काम्पलेक्स केे पीछे जिला उना हिमाचल प्रदेश के साथ हुई थी ।

Advertisment

शादी में उसके पिता ने लगभग 15 लाख रूपये खर्च किए थे। महिला के मुताबिक उनके पिता ने पति सचिन को 7 लाख 50 हजार नगद दिए थे। वहीं सास-ससुर पति को सोने की अंगूठी चैन, जेवर कपड़े आदि दिए थे । महिला के मुताबिक उसकी सास रमा ठाकुर ने बैंक के लॉकर में रखने के लिए उससे उसके सोने के जेवर ले लिए थे ।

पीडि़त महिला निशा तनेजा ने बताया कि वह अपने पति के साथ पंचकुला में रहकर चंडीगढ़ में आईईएलटीएस क्लासेस करती थी, उसका स्वास्थ्य खराब होने से वह क्लासेस पूरी नहीं कर पाई एवं परीक्षा नहीं दे पाई थी। इसी बात को लेकर पति उसे शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगे और फिर पति उसे अम्बा, हिमाचल प्रदेश लेकर आ गए । 

यूके जाने मांगे 15 लाख 

अम्बा आने के बाद उसकी सास रमा ठाकुर, ससुर सुरजीत सिंह डडवाल पति सचिन ठाकुर मिलकर उससे बोले कि अपने भाई से कहो कि हम दोनों का स्पासंर बन जाए, जिसे उसका पति एवं वह दोनों यूके जा सके। यूके जाने में लगभग एक वर्ष का 15 लाख रूपए का खर्च होता है।

जिस पर उसके भाई कमल तनेजा ने पैसे देने से मना किया तो पति सचिन ठाकुर ने उसे घर से निकाल दिया और कहा कि 15 लाख रूपए लेकर ही वापस आना।  जिसके बाद महिला अपने माता पिता के पास जबलपुर आ गई । पुलिस ने महिला की शिकायत पर मामला दर्ज करते हुए जांच शुरु कर दी है।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment