Advertisment

सीसीटीवी फुटेज में हत्याकांड के मास्टर माइंड के साथ बस स्टैंड में नजर आयी युवती, इधर... सामने आई बंद कमरे की रूह कंपा देने वाली तस्वीरें

मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में शुक्रवार 15 मार्च को रेलवे कर्मी एवं उनके 8 वर्षीय पुत्र के जघन्य हत्याकांड मामले में पुलिस बड़ी तेजी के साथ फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है। जांच में पुलिस को यह पता चला है कि आरोपी कथित प्रेम युगल को बस से दमोह रूट पर रवाना हुआ है।

author-image
By Shivansh Shukla
New Update
 मध्यप्रदेश के जबलपुर

a girl was seen in the bus stand

जबलपुर । सीसीटीवी कैमरे फुटेज में दोनों हाथों में हाथ डाले बस पकड़ने जा रहे हैं और एक पीले रंग की बस में सवार होकर निकल गये‌।हालांकि वे लगातार पुलिस को भ्रमित करने का प्रयास भी कर रहे हैं‌। 
इधर ,जिस बंद कमरे में पिता -पुत्र की लाशे मिली थी। उसकी कुछ रूह कंपा देने वाली तस्वीरें व वीडियो सामने आएं हैं। जिससे यह बात साफ है कि हत्याकांड को पूरी प्लानिंग के साथ अंजाम दिया गया था।

Advertisment

इस मामले में जबलपुर एसपी आदित्य प्रताप सिंह ने बताया कि पुलिस की अलग-अलग टीमों द्वारा आरोपी को पकड़ने के लिए संभावित जगहों पर तलाशी की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिस एक्टिवा गाड़ी में आरोपी एवं मृतक की पुत्री कॉलोनी से बाहर निकले थे, उस गाड़ी को मदन महल स्टेशन के बाहर देखा गया है।

 आरोपी और नाबालिक ने मदन महल स्टेशन पर गाड़ी खड़ी की और इसके बाद स्टेशन के अंदर जाकर दूसरी ओर से बाहर निकल गए। बाहर निकलते ही दोनों आरोपियों ने आईएसबीटी की बस पकड़ी और उसके बाद आगे का सफर तय किया। एसपी आदित्य प्रताप सिंह का कहना है कि जल्दी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

a girl was seen in the bus stand

Advertisment

ये है पूरा घटनाक्रम
दरअसल सिविल लाइन थाना अंतर्गत बनी रेलवे मिलेनियम कॉलोनी में विगत 15 मार्च को 2 हत्याएं होने की सूचना पुलिस को मिलती है। मौके पर पहुंची पुलिस की टीम के साथ फोरेंसिक एक्सपर्ट भी पहुंच जाते हैं। जो बारीकी से मामले की पड़ताल करने में जुट जाते हैं। मृतकों की पहचान 55 वर्षीय रेलवे कर्मी राजकुमार विश्वकर्मा एवं पत्र 8 वर्षीय तनिष्क विश्वकर्मा होती है। वही शुरुआती पूछताछ पर पुलिस को पता चलता है कि मृतक की 14 वर्षीय पुत्री काया  विश्वकर्मा लापता है। 

a girl was seen in the bus stand


 बेटी ने छोड़ा वॉइस मैसेज
बाप बेटे की इस जघन्य हत्याकांड के उनकी बेटी किया विश्वकर्मा ने एक वॉइस मैसेज भोपाल में रहने वाली अपने मामा की लड़की मुस्कान को भेजा था। जिसमें सुनाई देता है कि मुस्कान जल्दी आ जाओ पापा और भाई को मुकुल सिंह ने मार दिया गया है। इतना मैसेज मिलते ही भोपाल में रह रही मुस्कान अपने पिपरिया निवासी पिता को बताती है। क्योंकि पिपरिया से जबलपुर दूर होने के कारण वह भी यह बात अपनी गढ़ा में रहने वाले रिश्तेदारों को बताते हैं। जो मौके पर पहुंचते हैं तो देखते हैं कि दरवाजे में बाहर से ताला लगा हुआ है। इसके बाद भी तुरंत पुलिस को इस बात की सूचना देते हैं।

a girl was seen in the bus stand

जिसके साथ भागी उसी के खिलाफ छोड़ा मैसेज
इस जघन्य वारदात के बाद एक सवाल लोगों के मन में उठ रहा है। वो यह है कि नाबालिक काया विश्वकर्मा जिस आरोपी मुकुल विश्वकर्मा के साथ फरार हुई है, उसने उसी के खिलाफ परिजनों को वॉइस मैसेज देकर यह क्यों कहा कि मुकुल सिंह ने उसके पिता और भाई की हत्या कर दी है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि पुलिस द्वारा बचने के लिए काया  विश्वकर्मा ने सोच समझ कर यह चाल चली होगी। और संभवत पकड़े जाने पर पुलिस को यह बता सके की आरोपी मुकुल ने उसके पिता एवं पुत्र की हत्या कर उसको किडनैप कर ले गया था।

पन्नियों में लिपटी मिली लाशें
मौके पर पहुंची पुलिस पहले तो सीढ़ी लगाकर खिड़की से अंदर का नजारा देखते हैं, जहां पर एक व्यक्ति पड़ा हुआ मिलता है। इसके बाद पुलिस दरवाजा तोड़ते हुए अंदर जाती है, जहां पर फ्रिज के अंदर एक पन्नी में 8 वर्षीय तनिष्क विश्वकर्मा की लाश और घर के किचन में 55 वर्षीय राजकुमार विश्वकर्मा की लाश पन्नी में बंधी हुई मिलती है।

आरोपी भी रेल कर्मी का बेटा
अभी तक की जांच में पुलिस को पता चला कि इस जगन ने हत्या का आरोपी मुकुल सिंह मृतक के पड़ोस में ही रहता है जिसके पिता भी रेलवे कर्मी है। जानकारी के मुताबिक आरोपी मुकुल सिंह कॉलेज में बीएससी की प्राइवेट पढ़ाई कर रहा है। वहीं 16 साल की काया ने अभी हाल ही में दसवीं का पेपर दिया है । बताया जा रहा है कि दोनों के बीच में पिछले 1 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था और इस प्रेम प्रसंग में बेटी का पिता आड़े आ रहा था, जिसे रास्ते से हटाने के लिए दोनों ने मिलकर प्लान बनाया। इस पूरी वारदात के पीछे कई दिनों की प्लानिंग बताई जा रही है। 

 


बेटे का दबाया गला, पिता पर सिलेंडर से वार
इस वारदात को अंजाम देने आरोपी मुकुल सिंह ने मृतक राजेश विश्वकर्मा के सिर पर धारदार हथियार से एक के बाद एक कई वार चाकू से वार किए। उसके बाद आरोपी मृतक राजकुमार विश्वकर्मा के ऊपर छोटे एलपीजी सिलेंडर से तब तक वार करता रहा जब तक उनकी जान न निकल जाए। इसके बाद आरोपी मुकुल सिंह ने 8 वर्षीय तनिष्क विश्वकर्मा का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। बताया जा रहा है कि इस पूरी वारदात को मृतक की बेटी का या विश्वकर्मा सामने खड़े होकर अपनी आंखों से देखती रही। 


पास्को एक्ट में जेल में बंद था आरोपी
16 साल की काया विश्वकर्मा इससे पहले सितंबर 2023 में आरोपी मुकुल सिंह के साथ घर से भाग चुकी है। इस मामले की शिकायत मृतक पिता  राजकुमार विश्वकर्मा द्वारा सिविल लाइन थाने में की गई थी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी एवं नाबालिक युवती को ढूंढते हुए आरोपी के खिलाफ पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया था। जानकारी के मुताबिक आरोपी हाल ही में जेल से छूटकर बाहर आया था, इसके बाद उसने इस वारदात को अंजाम दिया। 

 पत्नी का हो चुका स्वर्गवास
 बताया जा रहा है कि इस दौर हत्याकांड में मृतक राजकुमार विश्वकर्मा की पत्नी एवं मृतक तनिष्क विश्वकर्मा की मां का देहांत लगभग 1 साल पहले हो चुका है। बताया जा रहा है कि लगभग 1 साल पहले पूरा परिवार वैष्णो देवी दर्शन के लिए गया था। जहां पर उनकी पत्नी की अचानक तबियत बिगड़ी और उसके बाद उनकी मौत हो गई थी। 


 सीसीटीवी में कैद हुए दोनों
 पुलिस द्वारा इस मामले के बाद कई जगहों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। इसी क्रम में पुलिस के हाथ मिलेनियम कॉलोनी में लगे सीसीटीवी का फुटेज भी लगा है, जिसमें साफ दिख रहा है कि, पहले आरोपी लड़का मुकुल सिंह अपनी लाल कलर की स्कूटी गाड़ी से बाहर निकलता है और ठीक उसके पीछे लड़की काया विश्वकर्मा भी निकलती है। सीसीटीवी में दिख रहे फुटेज के अनुसार लड़का लड़की टाइम मिलाकर घर से निकलते हैं जिसमें 12:20 पर लड़का बाहर जाते दिखाई दे रहा है और ठीक 12:20 पर ही लड़की काया विश्वकर्मा भी लड़के के  पीछे-पीछे जा रही है।

Advertisment
Latest Stories
Advertisment