'2023 में कांग्रेस की छुट्टी हुई थी, 2024 के चुनाव में सफाया होना तय है' : प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मध्य प्रदेश के झाबुआ में 7,550 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने राज्य की 'आहार अनुदान योजना' के तहत लगभग दो लाख महिला लाभार्थियों को मासिक किस्त भी वितरित की.

New Update
Prime Minister Narendra Modi

'2023 में कांग्रेस की छुट्टी हुई थी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मध्य प्रदेश के झाबुआ में 7,550 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने राज्य की 'आहार अनुदान योजना' के तहत लगभग दो लाख महिला लाभार्थियों को मासिक किस्त भी वितरित की. इस दौरान पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित किया और कहा कि 2023 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की छुट्टी हुई थी, 2024 के लोकसभा चुनाव में सफाया होना तय है.

Advertisment

कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'बीते वर्षों में मध्य प्रदेश ने दो अलग-अलग दौर देखे हैं. एक डबल इंजन सरकार का दौर और दूसरा कांग्रेस के जमाने का काला दौर! कम उम्र के युवाओं को शायद याद भी नहीं होगा, आज विकास के रास्ते पर तेजी से दौड़ रहा मध्य प्रदेश भाजपा सरकार से पहले देश के सबसे बीमारू राज्यों में गिना जाता था.हमारे लिए जनजातीय समाज वोट बैंक नहीं,  देश का गौरव है.आपका सम्मान भी और आपका विकास भी... ये मोदी की गारंटी है. आपके सपने, आपके बच्चों के सपने, नौजवानों के सपने... ये मोदी का संकल्प है.'

पीएम मोदी ने कहा, 'गुजरात में मैंने देखा था कि आदिवासी पट्टों में स्कूलों की कमी के कारण बच्चों को स्कूल जाने के लिए कई किलोमीटर चलना पड़ता था. मैं मुख्यमंत्री बना तो इन पट्टों में मैंने स्कूल खुलवाए. अब आदिवासी बच्चों के लिए मैं देश भर में एकलव्य आवासीय स्कूल खुलवा रहा हूं.कांग्रेस ने इतने वर्षों में 100 ही एकलव्य स्कूल खोले थे, जबकि भाजपा की सरकार ने अपने 10 साल में ही इससे चार गुना ज्यादा एकलव्य स्कूल खोल दिए हैं. एक भी आदिवासी बच्चा शिक्षा के अभाव में पीछे रह जाए, ये मोदी को मंजूर नहीं है.'

प्रधानमंत्री ने कहा, ' यहां आपके बीच आने से पहले मैंने देखा कि मेरी इस यात्रा को लेकर खूब चर्चाएं भी हो रही हैं. कुछ लोग कह रहे हैं कि मोदी मध्य प्रदेश में झाबुआ से लोकसभा की लड़ाई का आगाज करेगा. मैं बताना चाहता हूं कि मोदी लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए नहीं आया है. मोदी तो सेवक के तौर पर ईश्वर रूपी MP की जनता-जनार्दन का आभार करने आया है. मध्य प्रदेश में विधानसभा के नतीजों से आप पहले ही बता चुके हैं लोकसभा के लिए आपका मूड क्या रहने वाला है. इसलिए इस बार विपक्ष के बड़े-बड़े नेता पहले से ही कहने लगे हैं- 2024 में 400 पार, फिर एक बार मोदी सरकार.'

Advertisment

पीएम मोदी, 'हमारा आदिवासी समाज हजारों वर्षों से वन सम्पदा से अपनी रोजी रोटी चलाता है.कांग्रेस के समय आदिवासियों के उस अधिकार पर कानूनी पहरे लगा दिये गए थे.वन संपदा कानून में बदलाव करके हमारी सरकार द्वारा आदिवासी समाज को वन भूमि से जुड़े अधिकार लौटाए गए. इतने वर्षों से आदिवासी परिवारों में सिकल सेल एनीमिया हर वर्ष सैकड़ों लोगों की जान ले रही थी. केंद्र और राज्यों में दोनों जगह  कांग्रेस ने इतने वर्ष सरकार चलाई, लेकिन उन्होंने असमय मृत्यु को प्राप्त होते जनजातीय युवाओं की, बच्चों की चिंता नहीं की.' 

प्रधानमंत्री ने कहा कि लेकिन हमारे लिए वोट नहीं जिंदगी मायने रखती है. हमने वोट बैंक के लिए नहीं, आदिवासी समाज के स्वास्थ्य के लिए सिकल सेल एनीमिया के खिलाफ अभियान शुरू किया. कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि ये कांग्रेस और हमारी नीयत में फर्क बताता है. हमारी सरकार MP में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर खास ध्यान दे रही है. कांग्रेस सरकार के 10 वर्षों में MP को रेलवे के विकास के लिए जितना पैसा मिला, आज हम उससे 24 गुना ज्यादा पैसा MP के लिए भेज रहे हैं.

इससे पहले प्रधानमंत्री ने स्वामित्व योजना के लाभार्थियों को 1.75 लाख अधिकार अभिलेख वितरित किए. इससे लोगों को उनकी जमीन के अधिकार के लिए दस्तावेजी साक्ष्य उपलब्ध हो जाएंगे. इसके अलावा पीएम मोदी ने झाबुआ में 'सीएम राइज स्कूल' का शिलान्यास किया. यह स्कूल छात्रों को स्मार्ट क्लास, ई- लाइब्रेरी आदि जैसी आधुनिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी को एकीकृत किया. इसके बाद उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया.

Advertisment
Latest Stories
Advertisment