छत्तीसगढ़ में जोगी कांग्रेस के भाजपा में विलय की चर्चा तेज, क्या लोकसभा चुनाव का हो रहा इंतजार

लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही प्रदेश की राजनीति में एक बार फिर जोगी कांग्रेस की चर्चा तेज हो गई है। चर्चा यह है कि आगामी लोकसभा के चुनाव से पहले जनता कांग्रेस जोगी का भारतीय जनता पार्टी के साथ विलय हो सकता है।

New Update
aaa

Merger of Jogi Congress with BJP in Chhattisgarh

वहीं बीते कुछ दिनों से प्रदेश में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम भी कुछ इस तरह के इशारे भी कर रहे हैं। बतादें कि बीते दिनों छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के अध्यक्ष अमित जोगी ने दिल्ली में केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। जिसके बाद से प्रदेश में जोगी कांग्रेस के भाजपा के जाने की भी हलचल तेज हो गई है। 

Advertisment

2018 के चुनाव में मजबूती से खड़ी जोगी कांग्रेस 2023 में हुई कमजोर
छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री स्व अजीत जोगी ने प्रदेश में एक क्षेत्रीय दल की संभावनाओं के साथ ही "छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी" पार्टी बनाई थी। जिस तरह से प्रदेश में जोगी के नेतृत्व में जोगी कांग्रेस तेजी से आगे बड़ रही थी माना जा रहा था कि आने वाले दिनों में छत्तीसगढ़ में एक क्षेत्रीय दल तैयार हो जाएगा। साल 2018 के विधानसभा के चुनाव में 7 सीटों के साथ जोगी की पार्टी विधानसभा पहुंची थी।

हैरत करने वाली बात यह थी कि महज एक साल पहले ही नई पार्टी बनाना और प्रदेश में 7 सीटे जीतकर विधानसभा पहुंचना चर्चा का विषय बनी हुई थी। लेकिन अजीत जोगी के स्वर्गवास के बाद से ही पार्टी धीरे-धीरे टूटने लगी, जोगी के जितने भी भरोषे के साथी थे उन्होंने अन्य राजनीतिक दलों का दामन थाम लिया। इसका नतीजा यह हुआ कि साल 2023 के चुनाव में जनता कांग्रेस जोगी एक भी सीट नहीं जीत सकी। 

साल 2018 के बाद कई बार कांग्रेस में जाने का किया था प्रायस   
छत्तीसगढ़ में जनता जोगी कांग्रेस की राजनीतिक हालत ठीक न होने के कारण ऐसा माना जा रहा है कि उनका विलय के अलावा दूसरा विकल्प शेष नहीं रह गया है। पूर्व सीएम अजीत जोगी के स्वर्गवास के बाद लगातार जोगी कांग्रेस ने कांग्रेस के साथ जाने का प्रयास किया था। इस बात को लेकर पार्टी की अध्यक्ष रेणु जोगी ने भी इसकी चर्चा की थी।

माना जा रहा था कि कांग्रेस के कई नेताओं के हस्ताक्षेप के कारण यह संभव नहीं हो पाया। वही एक बार फिर साल 2023 के चुनाव के बाद एक बार फिर जोगी कांग्रेस के विलय की चर्चा तेज हो गई है। अमित जोगी के केंद्रीय मंत्री   मुलाकात के बाद वलय की चर्चा की बातें भी सामने आ रही हैं। 

अगर विलय हुआ तो क्या राज्यसभा जाएंगे अमित?
छत्तीसगढ़ में जोगी कांग्रेस के विलय के साथ ही चर्चा यह भी हो रही है कि अगर जोगी कांग्रेस का भाजपा के साथ विलय होता है तो भाजपा अमित जोगी को राज्यसभा भी भेज सकती है। छत्तीसगढ़ में भाजपा की नेत्री राज्यसभा सांसद का कार्यकाल भी लगभग समाप्त हो चुका है। कुछ दिनों में राज्यसभा का चुनाव होगा, जिसमें छत्तीसगढ़ की एक सीट के लिए भी चुनाव होना है। ऐसे में जोगी कांग्रेस के विलय के साथ भाजपा, अमित जोगी को राज्यसभा भेज सकती है। 

Advertisment
Latest Stories
Advertisment